मध्यप्रदेश बदलाव चाहता है, आम आदमी पूरी तरह तैयार है।
प्रदेश की जनता भ्रष्टाचार कुशासन से युक्त शिवराज सिंह चौहान की सरकार को हटा कर दिल्ली की तरह मध्यप्रदेश में भी स्वच्छ राजनीती के लिए आम आदमी पार्टी को चुनेगी।
[ Hindustantimes.com Link ]

Delhi chief minister Kejriwal sets eyes on three BJP-ruled states

m.hindustantimes.com
यह है मध्यप्रदेश का स्वास्थ्य विभाग और उसके अधिकारी। पद का इतना घमण्ड की बुजुर्ग से बत्तमीज़ी करने से भी नही चुके। मप्र में पूरा तन्त्र सड़ चूका है।
प्रदेश को 7000 करोड़ का नुकसान। जनता की खून पसीने की कमाई यूं व्यर्थ हो रही है। कौन जिम्मेदार?
शिवराज शासन में मध्यप्रदेश की एक और उपलव्धि।
बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियों के नेता देश बेचने में लगे है, पहले बीजेपी का नेता और अब कांग्रेस के नेता देश से जानकारियां लीक करने में लिप्त पाए गए है, इन आईएसआई के एजेंट्स किस नेता से बात करते थे उनकी भी जांच होनी चाहिए।
[ Patrika.com Link ]

फर्जी एक्सचेंज चलाने वालों में कांग्रेस नेता का भाई शामिल, चीन से जुड़े तार - congress leader's brother arrested on charges of r

m.patrika.com
जिस राज्य में महिला पुलिस ही सुरक्षित नही है, उस प्रदेश में लोग कैसे सुरक्षित रहेंगे, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को या तो नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी होगी या फिर इस्तीफा दे, ताकि आम आदमी एक ऐसी सरकार चुने जो कुशासन, भ्रष्टाचार, और अपराध पर लगाम लगा सके।
आप सभी को महाशिवरात्रि के पर्व पर हार्दिक शुभकामनाएं।
एक तरफ दिल्ली सरकार है जो गरीबों और किसानों का ख्याल रखती है, वहीँ दूसरी तरफ मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार पेट्रोल और डीजल पर सबसे ज्यादा टैक्स लगा कर किसानों को महंगा डीजल बेच रही है।
क्या शिवराज सरकार किसान विरोधी है?
मुख्यमंत्री Shivraj Singh Chouhan जी ये मध्यप्रदेश की तस्वीर है, बच्चे जान जोखिम में डाल कर कुएं से पानी निकालने को मजबूर है, अगर इन बच्चों को कुछ हो गया तो उसका ज़िम्मेदार कौन होगा?
जिस पंडाल की क्षमता 20 हज़ार वहां बाबा रामदेव को दिखे 1 लाख लोग,
क्या बाबा रामदेव को आँखों के लिए योग नही करना चाहिए?
ऐसी सरकार जो अपने 15 वर्षों के शासन में प्रदेश के लोगों को पीने का पानी भी उपलब्ध ना करवा पाए, ऐसी सरकार को 1 मिनट भी सत्ता में रहने का अधिकार नही है, बीजेपी और शिवराज सिंह चौहान के 13 वर्षो के कुशासन को 2018 के चुनावों में जनता जवाब देगी |
सिंहासन खाली करो कि जनता आती है....
सच सामने आ ही जाता है।
आज की रैली की गुटबाज़ी और भीड़ दोनों से साफ़ हो जाता है की मध्यप्रदेश की राजनीति से कांग्रेस साफ़ हो चुकी है। साफ है मध्यप्रदेश में एक ही विकल्प है - "आप"।
आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश के संयोजक श्री आलोक अग्रवाल जी से फेसबुक पर जुड़े, Alok Agarwal जी के फेसबुक पेज को लाइक करे और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.
[ Facebook.com Link ]

Alok Agarwal

facebook.com